ज्योतिगिरी महाराज पर यौन शोषण  का आरोप - डा. संदीप कटारिया


क्राइम रिफॉर्मर एसोसिएशन  के  राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. संदीप कटारिया ने बताया कि बाबा राम रहीम, रामपाल, नित्यानंद, और आसारामबापू इत्यादि के बाद हरियाणा के सफेद पोषों के बीचबड़ा रसूख रखने वाले बाबा ज्योतिगिरि महाराज के खिलाफ महिलाओं के साथ यौन शोशण और नाबालिगों के साथ कथित तौर पर बलात्कार की षिकायतें दर्ज हुई हैं। आरोपों के मुताबिक हरियाणा के गुरूग्राम में बडोडा कला गांव के बाबा ज्योतिगिरी महाराज कई महिलाआंे के साथ यौन शोशण में संलिप्त पाए गए हैं और इसके खिलाफ शिकायत भी दर्ज करा दी गई है। बाबा ज्योतिगिरी महाराज के तमाम अष्लील वीडियो सोषल मीडिया पर वायरल हुए । जिसकी वजह से पुलिस ने षिकायत दर्ज की और अब गुरूग्राम पुलिस की साइबर सेल वीडियों की जांच कर रहीहै। इस मामले में वीडियो फैलाने वालों के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की गई है। ज्योतिगिरी महाराज की वीडियों वायरल होते ही बाबा आश्रम से गायब हो गया। इस बाबा पर आरोप है कि आश्रम में आने वाली महिलाओं और बच्चियों के साथ वह जबरन संबंध बनाता था और अब तक दर्जनों बच्चों के साथ यौन शोशण कर चुका है। इस मामले में षिकायत करने वाली महिला भी एक पीडिता है जिसने पुलिस में षिकायत दर्ज की है। न्यूज चैनल के पास भी इस बाबा के दुश्कर्म और अष्लील हरकतों के वीडियो मौजूद हैं जिसमें वह इन बच्चियों के साथ यौन शोशण करता नजर आ रहा है। मामले के सामने आने के बाद षिकायत की एक कॉपी राश्ट्रीय महिला आयोग, हरियाणा महिला आयोग और तमाम अधिकारियों को भी भेज दी गई है। पुलिस ने इस वीडियाों  को वायरल करने वालों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है क्योंकि इन वीडियों में पीड़ित महिला का भी चेहरा साफ दिख रहा है। आइटी कानून के तहत किसी अन्य माध्यम से अष्लील संदेष भेजना और आईपीसी की धारा 509 यानी, किसी महिला की गरिमा को ठेस पहुंचाना इस कानून  दायरे में आता है और उसी के तहत उन पर मामला दर्ज किया गया है। आरोपी ज्योतिगिरी महाराज के बारे में कहा जाता है कि वह पहले आईएएस था और उसके बाद बैरागी बन गया। हालांकि इसकी पुश्टि नहीं हुई है। देषभर के कई जगहों पर इस बाबा के आश्रम है। हरियाणा में यह बाबा गोषाला भी चलाता है। इस बाबा के इसके अलावा उज्जैन, काषी, गुरूग्राम और हरिद्वार में भी इस बाबा के आश्रम है और उनसे यौन शोशण के मामले सामने आने के बाद लोगों को पता चला तो काफी लोग थाने में जाकर इस बाबा के खिलाफ एफआईआर करने की मांग करने लगे और आश्रम को भी बंद करने की मांग पर अड गए। हालांकि तनाव को देखते हुए आश्रम के आसपास पुलिस की चैकसी ब-सजय़ा दी गई है। डा. कटारिया ने बताया कि हरियाणा के कई मंत्री और दूसरे राजनेता बाबा ज्योतिगिरी महाराज के करीबी हैं। जिसकी वजह से अब तक इसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई। सोषल मीडिया पर कई फोटो डाले जा रहे हैं जिसमें बाबा के साथ हरियाणा सरकार के मंत्री और नेता बैठे नजर आते हैं जिससे पता चलता है कि बाबा की सत्ता के गलियारों में भी खासी पैठ है। डा. कटारिया ने बताया कि अब एक साथ इतने मामलों के सामने आने के बाद बोहड़ा गांव के लोग काफी नाराज हैं। वहां के लोगों के फैसला किया है कि जब तक इस आश्रम को बंद नहीं किया जाता और फरार बाबा को गिरफ्तार किया जाए। डा. कटारिया ने बताया कि बाबा का मंत्री लोगों के संबंध होने के कारण ही उन पर समय रहते कानूनी कार्यवाही नहीं की जाती है जिसका फायदा उठा कर वोे महिलाओं और बच्चों के साथ गलत काम करते रहते हैं। यदि सरकार ही ऐसा करने वाले लोगों की मदद करेगी तो जनता सरकार से क्या उम्मीद कर सकती हैं। डा. कटारिया ने कहा कि ऐसा करने वाले बाबाओं के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्यवाही करनी चाहिए ताकि कोई और बाबा ऐसे करने से पहले हजार सोचें।


Popular posts