<no title>

हरियाणा सरकार की खेल नीति के खिलाफ खिलाड़ीए खेलमंत्री निशाने पर



क्राइम रिफॉर्मर एसोसिएषन के राष्ट्रीय  अध्यक्ष डा. संदीप कटारिया ने बताया कि जिन खिलाड़ियों ने कॉमनवेल्थ गेम्स के साथ -साथ एशियाई  खेलों में मेडल्स जीते थे। उनकी कॉमनवेल्थ गेम्स की राषि आधी कर दी गई है। जैसे ही खिलाड़ियों के खाते में एषियन गेम्स की राषि आई, इसके बाद से कुछ खिलाड़ियों ने एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचने वाले पहलवानों ने हरियाणा सरकार की खेल नीतियों के खिलाफ बागी तेवर अपना लिया है। एक तरफ भारत द्वारा सरकार अपने खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए TOPS, KHELO INDIA  ।  जैसी योजनाएं बनाई जा रही है ताकि भारत का खेल जगत में नाम रोषन हो, दूसरी तरफ हरियाणा में खिलाड़ियों को हतोत्साहित करने का षडयंत्र  रचा जा रहा है ताकि खिलाड़ी घुटने के बल पर आ जाए। उन्होंने एक बार फिर ट्वीट करके हरियाणा सरकार और राज्य के खेलमंत्री पर निषाना साधा। जिसमें पहलवान विनेष फौगाट और बजरंग पुनिया शामिल  है। दरअसल सरकार ने यह राषि किसी सम्मान समारोह की बजाय सीधे उनके खाते में ट्रांसफर की है।
विज मंत्री ने कहा कि हालांकि मंच से खिलाड़ियों को सम्मानित किया जाना था। इसके लिए हमने तैयारी भी कर ली थी। लेकिन 3 हजार खिलाड़ी थे, ऐसे में एक खिलाड़ी को 15 मिनट भी दी जाती तो एक दिन में कार्यक्रम संभव नहीं था। इसलिए सीधे इनाम राषि खिलाड़ियों के खाते में डाली गई है। वहीं यदि किसी को लगता है कि उसकी इनाम राषि मंे कटौती की गई है तो खिलाड़ियो को भेजे गए पत्र मंे लिखा गया है कि वे विभाग में आकर अपनी राषि से संबंधित जानकारी स्पश्ट कर सकता है।


Popular posts