कोहली कर सकते हैं टीम में बदलाव, इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका

 






इंग्लैंड एंड वेल्स में जारी वर्ल्ड कप-2019 में भारत को पहले सेमीफाइनल में आज न्यूजीलैंड से भिड़ना है. इस मुकाबले से पहले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वो पूरी ताकत के साथ मैदान पर उतरेंगे.










भारतीय टीम लगातार तीसरी बार वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पहुंचने में सफल रही है. इंग्लैंड एंड वेल्स में जारी वर्ल्ड कप-2019 में भारत को पहले सेमीफाइनल में आज न्यूजीलैंड से भिड़ना है. इस मुकाबले से पहले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वो पूरी ताकत के साथ मैदान पर उतरेंगे.






इस मुकाबले में टीम इंडिया के खेमे में कई बदलाव देखे जा सकते हैं और सबसे बड़ा बदलाव गेंदबाजी में देखने को मिल सकता है. लीग स्टेज के अंतिम मैच में श्रीलंका के बल्लेबाजों ने टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार की जमकर पिटाई की थी.


इस मैच में भुवी ने 10 ओवर में 73 रन देकर एक विकेट लिया था. इस मैच के शुरुआती ओवरों में जहां बुमराह ने दो मेडन ओवर निकाला और अपने तीसरे ही ओवर में विकेट भी चटकाया, वहीं भुवी ने अपने 5 ओवर में 35 से ज्यादा रन लुटा दिए थे.


इस मैच में भुवी को मोहम्मद शमी की जगह टीम में शामिल किया गया था. वो भी तब जब शमी लगातार विकेट चटका रहे थे. विराट के इस फैसले पर लोगों ने जमकर खिंचाई की थी. हालांकि, अब माना जा रहा है कि कोहली सेमीफाइनल मैच में भुवी की जगह फिर शमी को मौका दे सकते हैं.


मोहम्मद शमी 4 मैचों में 14 विकेट ले चुके हैं. इसमें उनकी एक हैट्रिक भी शामिल है. वहीं, भुवनेश्वर कुमार ने वर्ल्ड कप के 5 मैच खेलकर सिर्फ 7 विकेट लिए हैं. लीग स्टेज के अंतिम मैच में भारत ने कुलदीप यादव और रवींद्र जडेजा को अंतिम एकादश में शामिल किया था. इस मैच में जडेजा ने 10 ओवर में 40 रन देकर 1 विकेट लिया था.


कोहली के सामने कुलदीप यादव और रवींद्र जडेजा में से किसी एक को चुनने की चुनौती होगी. कुलदीप ने अभी तक खेले 7 मैचों में केवल 6 विकेट चटकाए हैं. वहीं, जडेजा को सिर्फ एक मैच में मौका मिला है. इनके अलावा स्पिन गेंदबाजी में युजवेंद्र चहल ने 7 मैच में 11 विकेट लिए हैं. ऐसे में टीम में उनकी जगह पक्की मानी जा रही है.


वहीं, पंड्या ने गेंद और बल्ले, दोनों से दमदार प्रदर्शन किया है. उन्होंने पार्ट टाइमर होते हुए भी 8 मैच में 9 विकेट चटकाए हैं. इन सभी आंकड़ों को देखें तो गेंदबाजी में कोहली बड़े बदलाव के साथ उतर सकते हैं.


बुलंद हौसले वाली टीम इंडिया इंग्लैंड की सरजमीं पर न्यूजीलैंड से कभी भी जीत नहीं पाई है. हालांकि, जिन तेवरों के साथ टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने इस वर्ल्ड कप में विजयरथ दौड़ाया है, उससे एक बात तो तय है कि टीम इंडिया न्यूजीलैंड से किसी भी कीमत पर कम नहीं है.



Popular posts